Sunday, 16 March 2014

होली ..


होले -होले  रंग
रच ही गया
पिया तेरे प्रेम का

कौनसे रंग से
खेलूं मैं अब
तुझ संग इस होली

मैं तो तेरी
बरसों पहले ही
" हो ली "

~ उपासना ~







20 comments:

  1. वाह! सुन्दर,सामयिक प्रस्तुति....आप को होली की बहुत बहुत शुभकामनाएं....
    नयी पोस्ट@हास्यकविता/ जोरू का गुलाम

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक धन्यवाद जी

      Delete
  2. बहुत सुन्दर प्रस्तुति।
    --
    आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज सोमवार (17-03-2014) को होली आई रे पर भी है!
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    रंगों के पर्व होली की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक धन्यवाद जी

      Delete
  3. आपको भी सपरिवार होली की हार्दिक शुभकामनाएं ।

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक धन्यवाद जी

      Delete
  4. बहुत सुंदर आदरणीय , होली की शुभकामनाओं सहित , धन्यवाद
    नया प्रकाशन -: होली गीत - { रंगों का महत्व }

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक धन्यवाद जी

      Delete
  5. बहुत सुंदर प्रस्तुति...!
    सपरिवार रंगोत्सव की हार्दिक शुभकामनाए ....
    RECENT पोस्ट - रंग रंगीली होली आई.

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक धन्यवाद जी

      Delete
  6. होली में सब प्रेम के ही हो लेते हैं ... सुन्दर भाव ..
    आपको और परिवार में सभी को होली कि हार्दिक बधाई ...

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक धन्यवाद जी

      Delete
  7. बहुत सुंदर रचना .... होली की शुभकामनाएं...

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक धन्यवाद जी

      Delete
  8. वाह ... बेहतरीन
    होली की अनंत शुभकामनाएं

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक धन्यवाद जी

      Delete
  9. बहुत सुन्दर...होली की आपको सपरिवार हार्दिक शुभकामनाएं!

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक धन्यवाद जी .

      Delete
  10. इस सुंदर प्रस्तुति और होली की हार्दिक शुभकामनाएँ .....

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक धन्यवाद जी :-)

      Delete