Sunday, 24 August 2014

तुम्हारा एक नाम रखूं ?

तुम्हारा
 एक नाम रखूं ?
क्या नाम रखूं
 तुम्हारा !
प्रेम !
नहीं तुम्हारा नाम प्रेम नहीं !
वो प्रेम ही क्या
जो छुपाया जाये।

नफरत !
नहीं नफरत भी नहीं !
मेरे शब्दकोष में
यह शब्द ही नहीं है।

इंतज़ार !
नहीं इंतज़ार भी नहीं !
साथ रहने वालों का
कैसा इंतज़ार।

धोखा !
हाँ तुम धोखा ही हो ,
छलिया हो ,
भ्रम ही तो हो
यही नाम रखूंगी तुम्हारा।

जिक्र होगा जब कभी
धोखे का
तुम्हारा ही नाम आएगा
भ्रम में रहेगा सारा संसार
और हर बार छला जायेगा। 

30 comments:

  1. सुंदर प्रस्तुति , आप की ये रचना चर्चामंच के लिए चुनी गई है , सोमवार दिनांक - 25 . 8 . 2014 को आपकी रचना का लिंक चर्चामंच पर होगा , कृपया पधारें धन्यवाद !

    ReplyDelete
  2. सचमुच.....बहुत सुंदर....

    ReplyDelete
  3. हालात तो यही हो गये हैं कि भ्रम में रहता है हर कोई ....

    ReplyDelete
  4. आपकी रचना में मैं तो खो जाती हूँ

    ReplyDelete
  5. पर पूजता रहेगा रहेगा तुम्हें यह कहकर कि 'तुहरा क्या गया जो रोते हो'

    ReplyDelete
  6. शायद आपने सही नाम चुना !दुनिया में सभी भ्रम में जी रहे हैं |
    मैं
    Happy Birth Day "Taaru "

    ReplyDelete
  7. धोखा है जो कभी भुलाया नहीं जा सकता !
    मर्मस्पर्शी !

    ReplyDelete
  8. लाज़वाब...बहुत ख़ूबसूरत रचना...

    ReplyDelete
  9. बहुत सुन्दर प्रस्तुति।
    --
    आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा कल सोमवार (25-08-2014) को "हमारा वज़ीफ़ा... " { चर्चामंच - 1716 } पर भी होगी।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
  10. सुन्दर मृगमरीचिका

    ReplyDelete
  11. इस जहां में स्वयं अपने ही मन से बड़ा छलिया और कोई नहीं है। सुंदर रचना।

    ReplyDelete
  12. अति सुंदर प्रस्तुती उपासना जी !!!

    ReplyDelete
  13. अपने ही धोखा देते है छलते क्योकि वही तो पास होते हैं ...
    बहुत बढ़िया प्रस्तुति

    ReplyDelete
  14. यही रिश्तों के ताने-बाने हैं.

    ReplyDelete
  15. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...

    ReplyDelete
  16. चाहे भ्रम ही हो तुम पर हो बडे सुंदर।

    ReplyDelete
  17. बहुत सुंदर

    ReplyDelete
  18. पहचाना तो है चोखा ....
    नाम छलिए का बिल्कुल सही है, धोखा ! ....


    शुभकामनायें ....

    ReplyDelete
  19. Bahut sunder prastutikaran.....!! Accha naam hai !!

    ReplyDelete